100+ Hanumanji status & quote in Hindi-हनुमान स्टेटस इन हिंदी

आज हम इस पोस्ट मे हम आपके लिऐ लाये ही जो हनुमानजी भक्त के लिऐ पसंददीदा होने वाले हे जिसका नाम लेने से ही मन मे उत्साह और अलग ही आनंद आता हे इसी लिऐ हम आपके लिऐ हनुमानजी shayri,hanumanji status,hanumanji quotes उपलब्द किया जो  हनुमानजी भक्त बहुत पसंद होने वाले हे
ईस पोस्ट मे आपको फोटोज़ या फिर quotes पसंद अता हे तो आप डाउनलोड कर के आप whatsapp status लगा सकते हे
मित्रो ईस पोस्ट को अपने मित्रो के साथ और रिस्तेदार के साथ शेर जरूर करे

Hanumanji status & quote in Hindi

 

Hanuman Quotes in Hindi

हनुमान है नाम महान,
हनुमान करे बेडा पार,
जो जपता हैं नाम हनुमान,
होते सब दिन एक समान।

हनुमान जी राम को सबसे प्यारे है,
वो तो भक्तों में सबसे न्यारे है,
पल-भर में तुमने लंका को जलाया है,
श्री राम को माता सीता से मिलाया है।

जिनको श्रीराम का वरदान हैं,
गदा धारी जिनकी शान हैं,
बजरंगी जिनकी पहचान हैं,
संकट मोचन वो हनुमान हैं।

स्वर्ग में देवता भी उनका अभिनंदन करते हैं,
जो हर पल हनुमान जी का वंदन करते हैं।

मेरे बजरंगी अब तो कर दो मेरा पार,
तुम हो दुख-हर्ता कहता ये सारा संसार,
सीता मैया की लंका से खबर तुम लाये,
तभी तो तुम श्री राम के मन को भाये

बोले-बोले है हमसे हनुमान,
बोलो भक्तों मिलकर जय सिया राम,
दुनिया रचने वाला भगवान है,
संकट हरने वाला हनुमान है।

भीड़ पड़ी तेरे भक्तों पर बजरंगी,
सुन लो अर्ज़ अब तो दाता मेरी,
हे महावीर अब तो दर्शन दे दो,
पूरी कर दो तुम कामना मेरी।

भीड़ पड़ी तेरे भक्तों पर बजरंगी,
सुन लो अर्ज़ अब तो दाता मेरी,
हे महावीर अब तो दर्शन दे दो,
पूरी कर दो तुम कामना मेरी।

इस पोस्टो को भी जरुर पढ़े

जिसको हनुमान का वरदान है,
महावीर जिस की शान है,
मारुति इसकी पहचान है,
संकट मोचन वह बजरंगबली हनुमान है।

हनुमान है नाम महान,
हनुमान करे बेडा पार,
जो जपता हैं नाम हनुमान,
होते सब दिन एक समान.
ये दुनिया जो रचे वो भगवान है
संकट जो दूर करे वो हनुमान है
जिससे रूठे ये सारा संसार है
बजरंगी करते उससे प्यार है.
भीड़ पड़ी तेरे भक्तों पर बजरंगी,
सुन लो अर्ज़ अब तो दाता मेरी,
हे महावीर अब तो दर्शन दे दो,
पूरी कर दो तुम कामना मेरी.
मेरे तन मन में राम हैं,
मेरे रोम-रोम में राम हैं,
मेरे मन में भी
राम का ही नाम हैं.
हे हनुमान तुम हो सबसे बेमिसाल
तुमसे आँख मिलाये किसकी है मजाल
सूरज को पल में निगला अंजनी के लाल
मूरत तेरी देखकर भाग जाये काल.
जिनके मन में बसते है श्री राम
जिनके तन में बसते हैं श्री राम
जग में सबसे हैं वो महा बलवान
ऐसे प्यारे है मेरे वीर हनुमान ||
हनुमान लिपट जाये राम के चरण में,
जब कष्ट हो तब हम आये आपकी शरण में
सीने में अपने राम को छुपा रखा हैं,
हमने अपना पूरा जीवन आपको दे रखा हैं..!!
हनुमान है नाम महान,
हनुमान करे बेडा पार,
जो जपता हैं नाम हनुमान,
होते सब दिन एक समान.
जिनको श्रीराम का वरदान है
गदा जिनकी शान है
बजरंगी जिनकी पहचान है
संकट मोचन वो हनुमान है
Hanuman Shayari
जय हनुमान ज्ञान गुन सागर,
जय कपीस तिहूँ लोक उजागर,
राम दूर अतुलित बल धामा,
अंजनिपुत्र पवन सूत नाम.
जय हनुमान ज्ञान गुन सागर,
जय कपीस तिहूँ लोक उजागर,
राम दूर अतुलित बल धामा,
अंजनिपुत्र पवन सूत नाम.
बजरंगी तेरी पूजा से हर काम होता है
दर पर तेरे आते ही दूर अज्ञान होता है
राम जी के चरणों में ध्यान होता है
इनके दर्शन से बिगड़ा हर काम होता है
प्रभु मुझ पर दया करना
मैं तो आया हूँ शरण तिहारी
तेरी प्यारी सी मनभावन मूरत
जब-जब देखूं मैं जाऊं बलिहारी.
महावीर आप बहुत ही बेमिसाल हो
आपसे नजरे मिलाते है, तो कैसे मिलाए जब
आप सूर्य को ही निकल गए थे
महावीर को देखकर ही भाग जाते हैं ..भूतकाल..
हनुमान है नाम महान,
हनुमान करे बेड़ा पार,
जो लेता है नाम बजरंग बलि का,
सब दिन होते उसके एक समान.
जय बजरंग बलि, जय श्री हनुमान
हाथ जोड़कर करू विनती..
प्रभु रखियो मेरी लाज,
इस डोर को बांधे रखो मेरे पालनहार !!
जिनको श्रीराम का वरदान हैं,
गदा धारी जिनकी शान हैं
बजरंगी जिनकी पहचान हैं,
संकट मोचन वो हनुमान हैं।
पहने लाल लंगोट,
हाथ में है सोटा,
दुश्मन का करते हैं नाश,
भक्तों को नहीं करते निराश.
बजरंग जिनका नाम हैं,
सत्संग जिनका काम हैं,
ऐसे हनमंत लाल को मेरा
बारम्बार प्रणाम हैं ।।
हाथ जोड़ कर करूँ विनीति,
प्रभु राखियो मेरी लाज,
इस डोर को बांधे रखो,
मेरे पालनहार..
जिनके मन में है श्री राम,
जिनके तन में हैं श्री राम,
जग में सबसे हैं वो बलवान,
ऐसे प्यारे न्यारे मेरे हनुमान.
चरण शरण में आयें के धरु तिहारो ध्यान,
संकट से रक्षा करो हे महावीर हनुमान।
भूत प्रेत कभी निकट नहीं आ वे,
जब बजरंगबली का नाम सुनावे नासे
रोग हरे सब पीरा जब निरंतर हनुमत
वीरा जय हो बजरंग बली की ..|
जिसको हनुमान का वरदान है
महावीर जिस की शान है
मारुति इसकी पहचान है
संकट मोचन वह बजरंगबली है |
सब सुख लहे तुम्हारी शरना,
तुम रक्षक काहूको डरना,
आपन तेज, सम्हारो आपे तीनों लोक,
हांक ते कापे !
मेरे तन मन में राम हैं,
मेरे रोम-रोम में राम हैं,
मेरे मन में भी
राम का ही नाम हैं.
हे हनुमान तुम हो सबसे बेमिसाल
तुमसे आँख मिलाये किसकी है मजाल
सूरज को पल में निगला अंजनी के लाल
मूरत तेरी देखकर भाग जाये काल.

Leave a Comment